सिक्कों की दीर्घा

सिक्कों की दीर्घा

भारतीय संग्रहालय में दक्षिण एशिया के विभिन्न क्षेत्रों से पचास हजार से अधिक की संख्या में सिक्कों का एक अनूठा संग्रह है, जो कि सी. 5वीं/चौथी शताब्दी ईसा पूर्व से लेकर वर्तमान तिथि तक है।

दीर्घा में देखें

संग्रहालय का संग्रह

संग्रहालय के बारे में

1814 में एशियाटिक सोसाइटी ऑफ़ बंगाल (वर्तमान में 1 पार्क स्ट्रीट पर स्थित एशियाटिक सोसाइटी की इमारत) द्वारा स्थापित भारतीय संग्रहालय सबसे पहला और केवल भारतीय उपमहाद्वीप में ही नहीं बल्कि विश्व के एशिया प्रशांत क्षेत्र का सबसे बड़ा बहुप्रयोजन संग्रहालय है।

हमारे साथ जुड़ें

Visits

217740