सज्जा-कला दीर्घा

सज्जा-कला दीर्घा

दीर्घा के सज्जा-कला खंड में शिल्पकारों की कुछ अति सुंदर कृतियों हैं। इस खंड में घुटी मिट्टी के शाही बर्तन, सालिन विहार का विशाल अग्र भाग और बर्मी कला दर्शाता मंडालय के मंदिर का अग्रभाग, काठियावाड़ी घर के सामने का भाग, लकड़ी, हड्डी, पीतल, कांसे की वस्तुएं, तांबे के बर्तन, चांदी, हाथीदांत, जेड, बिदरी, और दमिश्की की वस्तुएं शामिल हैं। इन वस्तुओं का प्रयोग सजावट के लिए या अनुष्ठान के लिए किया जाता था।

दीर्घा में देखें

संग्रहालय का संग्रह

संग्रहालय के बारे में

1814 में एशियाटिक सोसाइटी ऑफ़ बंगाल (वर्तमान में 1 पार्क स्ट्रीट पर स्थित एशियाटिक सोसाइटी की इमारत) द्वारा स्थापित भारतीय संग्रहालय सबसे पहला और केवल भारतीय उपमहाद्वीप में ही नहीं बल्कि विश्व के एशिया प्रशांत क्षेत्र का सबसे बड़ा बहुप्रयोजन संग्रहालय है।

हमारे साथ जुड़ें

Visits

218595