वस्त्र दीर्घा

वस्त्र दीर्घा

दीर्घा में दिखाए गए कपड़े भारतीय उपमहाद्वीप में बनने वाले तरह-तरह के और रंग बिरंगे कपड़ों को दर्शाते हैं। इस संग्रह में सूती, ऊलन और सिल्क के रंग-बिरंगे कपड़े हैं। प्रदर्शित सामान में हैं कश्मीर की शॉलें, पंजाब की चादरें, कच्छ का कांच का काम, चंबा के रुमाल, बनारसी साड़ियाँ, ढाका की जामदानी सीड़ी, बंगाल की बालूचरी और कांथा साड़ियाँ, पाकिस्तान की सोज़्नी कढ़ाई, और लखनऊ तथा चेन्नई के प्रिंट किए कपड़े।

दीर्घा में देखें

संग्रहालय का संग्रह

संग्रहालय के बारे में

1814 में एशियाटिक सोसाइटी ऑफ़ बंगाल (वर्तमान में 1 पार्क स्ट्रीट पर स्थित एशियाटिक सोसाइटी की इमारत) द्वारा स्थापित भारतीय संग्रहालय सबसे पहला और केवल भारतीय उपमहाद्वीप में ही नहीं बल्कि विश्व के एशिया प्रशांत क्षेत्र का सबसे बड़ा बहुप्रयोजन संग्रहालय है।

हमारे साथ जुड़ें

Visits

217143